‘धार्मिक' अतिक्रमण के खिलाफ उत्तराखंड सरकार का अभियान जारी रहेगा: CM धामी

punjabkesari.in Thursday, Sep 21, 2023 - 07:11 PM (IST)

कोटा: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि "देवभूमि" के मूल चरित्र को बदलने वाले "धार्मिक प्रतीकों" सहित अतिक्रमण को हटाने का उनकी सरकार का अभियान जारी रहेगा। धामी का परोक्ष तौर पर इशारा उस ओर था जिसे उन्होंने पहले ‘‘भूमि जिहाद'' के नाम पर अतिक्रमण करार दिया था। उन्होंने कहा था कि एक साजिश के तहत बिना अनुमति के सार्वजनिक एवं वन भूमि पर हजारों धर्मस्थल अवैध रूप से बनाए गए हैं।

धामी ने इस साल शुरू हुए अभियान का उल्लेख करते हुए यहां संवाददाताओं से कहा कि उत्तराखंड में प्राधिकारियों ने 3,300 एकड़ जमीन से अतिक्रमण हटा दिया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की परिवर्तन संकल्प यात्रा में हिस्सा लेने आए धामी ने यह घोषणा भी की है कि उनकी सरकार राज्य में समान नागरिक संहिता लागू करने की दिशा में आगे बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि विधि आयोग ने अपनी सिफारिशें कर दी हैं, सरकार ने धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों के हितधारकों से भी मुलाकात की है और वह कानून को लागू करने की दिशा में आगे बढ़ेगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह विकास और कल्याण योजनाओं के लिए केंद्रीय धन का उपयोग नहीं करना चाहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि जल जीवन मिशन के तहत हजारों करोड़ रुपये बिना उपयोग के रह गए, क्योंकि राज्य सरकार लोगों को लाभ नहीं पहुंचाना चाहती। उन्होंने कानून-व्यवस्था पर अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए लोगों से कांग्रेस को उखाड़ फेंकने और प्रगति एवं विकास के लिए भाजपा की ‘‘डबल इंजन सरकार'' बनाने का आह्वान किया।

धामी ने कहा कि यात्रा को जनता से भारी समर्थन मिला और इसमें कोई संदेह नहीं है कि राज्य में भाजपा का सत्ता में लौटना तय है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया' पर निशाना साधते हुए कहा कि यह देश को नष्ट करने और सनातन धर्म का विरोध करने के लिए काम कर रहा है, जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रगति के लिए काम कर रहे हैं और "सनातन भक्ति" की बात कर रहे हैं। धामी ने कहा, ‘‘वे सनातन धर्म से जुड़ी हर चीज का विरोध करते हैं।'' धामी ने कहा कि गठबंधन के वरिष्ठ नेता सनातन धर्म पर की गई "अपमानजनक टिप्पणियों" पर चुप रहे और दावा किया कि ‘‘राजस्थान सनातन हिंदू संस्कृति का विरोध करने वाला एक अग्रणी राज्य बन गया है।'' उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि हिंदू त्योहारों पर "यहां प्रतिबंध लगाया गया है।'' जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त करने, अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण और तीन तलाक को खत्म करने का उल्लेख करते हुए धामी ने कहा कि मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने जो वादा किया था उसे पूरा किया है। लोकसभा में महिला आरक्षण विधेयक पारित होने पर धामी ने कहा कि महिलाएं और युवा हमेशा पार्टी की प्राथमिकता रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह विधेयक महिलाओं- "मातृ शक्ति" के प्रति पार्टी की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Khushi

Recommended News

Related News